Friday 27 November 2020
- Advertisement -

Sonali Misra

स्वतंत्र अनुवादक एवं कहानीकार, उनका एक कहानी संग्रह डेसडीमोना मरती नहीं प्रकाशित हुआ है और शिवाजी पर उपन्यास शीघ्र प्रकाश्य है; उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम पर लिखी गयी पुस्तक द पीपल्स प्रेसिडेंट का हिंदी अनुवाद किया है

Latest Articles

हिन्दू कवयित्रियों पर चुप्पी, मुग़ल शहज़ादियों का महिमामंडन

मध्यकालीन हिन्दू स्त्रियों के विषय में सोचिये। क्या धुंधली सी भी सकारात्मक उभर कर आती है? हमारी इतिहास की किताबों ने ऐसा चित्रण किया ही नहीं

कमला हैरिस और आह्लादित होता भारतीय लिबरल समाज

हिलरी क्लिंटन के समय वाले नाटक का फिर मंचन हो रहा है और कमला हैरिस भजन गाने वाले वही चंद लेफ़्ट-लिबरल नाम हैं जिन्हें पहले मुँह की खानी पड़ी थी

हिन्दी के विदेशज शब्द कहीं आपको भारत से दूर तो नहीं कर रहे?

सरलीकरण के नाम पर कई ऐसे शब्द अनायास ही हमारी हिन्दी के अभिन्न अंग बन गए जिनके अर्थ में भारतीयता के प्रति घृणा, द्वेष या तिरस्कार निहित है

सफ़ूरा ज़रगर गर्भावस्था में दंगा करवा सकती हैं, जेल नहीं जा सकतीं?

सफ़ूरा के पति का पात्र वास्तविक है या काल्पनिक, इस प्रश्न को आप लांछन कह सकते हैं, पर लोगों की जान से खेलना व्यक्तिगत विषय नहीं हो सकता

यौन कर्मियों के लिए कौन आया इस कठिन समय में?

सेवा भारती के एक कार्यकर्ता ने बताया कि वह मजदूरों को ही नहीं बल्कि यौन कर्मियों को भी राशन मुहैया करा रहे हैं क्योंकि वह वर्ग अन्यथा असहाय है

बबीता फोगाट को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का अधिकार क्यों नहीं?

यदि केवल तब्लीग़ी जमात को जाहिल कहा जाता है तो वह आम मुसलमानों पर हमला कैसे हुआ और बबीता फोगाट के एकाउंट को सस्पेंड कराने की मुहिम क्यों?

राम से चिढ़ का कारण — दूर से दर्शन से दूरदर्शन तक

जो जितना आधुनिक होता गया, राम से दूर होता गया; कथित आधुनिक और वामपंथी समाज राम से दूर होता जा रहा है और उसीके साथ भारत से दूर होता जा रहा है

शबरीमला पर सेक्युलर क़ानून थोपना अन्याय है

शबरीमला समुदाय विशेष का स्थल है जिसके नियमों को बदलने का अधिकार अन्य समुदायों को नहीं है; धर्मनिरपेक्षता की आड़ में आस्थाओं का विखंडन न हो