Monday 26 October 2020

अमित शाह एम्स में भर्ती, जानिए असल बात भर्ती होने की

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को लेकर AIIMS की ओर से एक बयान जारी किया गया 13 सितंबर सुबह 11-30 बजे जिसमें कहा गया कि अमित शाह को कोरोनावायरस संक्रमण के बाद की देखभाल के लिए 30 अगस्त को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया था। साथ ही उन्हें इस दौरान सलाह दी गई थी कि वो पूरे मेडिकल चेकअप के लिए अस्पताल आएँ।

वह उसी के तहत संसदीय सत्र के पहले के चेकअप कराने के लिए आए हैं। यह जानकारी AIIMS की मीडिया एंड प्रोटोकाल डिविजन की चेयरपर्सन की ओर से एक पत्र में दी गई है। मीडिया रिपोर्टस में दिखाया गया था कि अमित शाह को कल रात 11 बजे अस्पताल में सांस में दिक्कत आ जाने की बजह से अस्पताल में कराया गया था। जो कोविड 19 के ठीक हो जाने के बाद आई थी।

AIIMS

अमित शाह को AIIMS अस्पताल के कार्डियो-न्यूरो टावर में भर्ती कराया गया है। शाह ने अभी हाल ही में अहमदाबाद में कई करोड़ रूपए के विकास कार्यों का लोकापर्ण और शिलान्यास किया था।

अमित शाह 2 अगस्त को COVID पॉज़िटिव हुए थे; उन्होंने खुद इसकी जानकारी अपने ट्वीट के जरिए दी थी। इसके बाद उनका उपचार मेदांत अस्पताल में हुआ था और 14 अगस्त को वे मेदांत अस्पताल से डिस्चार्ज हो गए थे। लेकिन 18 अगस्त को कोरोना के बाद की देखभाल के लिए उन्हें एम्स में दाखिल होना पड़ा था और वहां पर वे 31अगस्त तक उनका उपचार हुआ था।

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के लिए हुआ हवन

AIIMS में भर्ती होने के बाद उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना के साथ प्रार्थनाओं का दौर भी शुरू हो गया है। मध्य प्रदेश के इंदौर में मालवा मिल चौराहा स्थित महादेव मंदिर में युवा मोर्चा के पूर्व मंडल अध्यक्ष के नेतृत्व में विशेष हवन पूजन किया गया, जिसके माध्यम से केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के जल्द स्वस्थ होने की कामना भगवान शिव से की गई।

You may be interested in...

All