दो दिन पहले कि रिपोर्ट्स में ख़बर थी कि इंडिया टुडे चैनल को दिए एक साक्षात्कार में अभिनेत्री से कांग्रेस नेता बनी उर्मिला मातोंडकर उर्फ़ मरियम मीर ने कहा था कि हिन्दू समुदाय, जो किसी समय सहिष्णुता के लिए जाना जाता था, आज सबसे अधिक हिंसक हो गया है। ऐसे बयान से समुदाय का आहात होना अपेक्षित है।

उर्मिला के ख़िलाफ़ शिकायत
सुरेश नखुआ

लोगों ने बयान की कड़ी निंदा की और भाजपा के नेता सुरेश नखुआ ने उर्मिला के ख़िलाफ़ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवा दी। नखुआ ने शिकायत की कि कांग्रेस के मुंबई नार्थ के प्रत्याशी ने लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाई है।

कानूनी पचड़े में पड़ने के डर से हो, चुनाव न लड़ पाने की घबराहट से हो या किसी अन्य कारण से ही क्यों न हो, उर्मिला अब कह रही हैं कि उन्होंने ऐसा कभी कहा ही नहीं। वे बता रही हैं कि उनके बयान को ग़लत तरीके से पेश किया जा रहा है।

अतः हमारे दर्शक, श्रोता और पाठक ही निर्णय लें कि उर्मिला ने हिन्दुओं को सर्वाधिक हिंसक कहा या नहीं कहा।