34 C
New Delhi
Monday 6 July 2020

ट्रम्प ने बताया कैसे मौत के घाट उतरा बग़दादी

ट्रम्प ने कहा, 'जब अमेरिकी सेना ने चढ़ाई की, जिस गुंडे ने दूसरों को डराने में अपना जीवन बिताया, उसने अपने अंतिम क्षणों को डर, दहशत और खौफ़ में बिताया।'

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने आज रविवार घोषणा की कि भगोड़े इस्लामिक स्टेट के नेता अबू बक्र अल बग़दादी की उत्तर पश्चिमी सीरिया में अमेरिकी विशेष बलों द्वारा किए गए छापे में मौत हो गई है। ट्रम्प ने व्हाइट हाउस प्रसारण के ज़रिए सूचना दी कि बग़दादी ने छापे के दौरान आत्महत्या कर ली। उन्होंने कहा कि छापे में बग़दादी के शव की बरामदी के कारण आतंकी की सही शिनाख्त हो पाई है।

ट्रम्प ने कहा, “वह एक बीमार और अभावग्रस्त आदमी था और he’s gone (अब वह नहीं रहा)।” ट्रम्प ने कहा कि बग़दादी के कई लोग मारे गए और ख़ुद को मारने की कोशिश में बग़दादी ने तीन बच्चों को भी मार डाला।

अमेरिकी सेना को कोई नुकसान नहीं हुआ, ट्रम्प ने बताया। उन्होंने रूस, तुर्की, सीरिया और इराक़ को उनके समर्थन के लिए धन्यवाद दिया।

लंबे समय से अमेरिका यह मांग कर रहा था कि सीरिया और इराक़ के उस पूरे क्षेत्र को नियंत्रित किया जाए जिसे बग़दादी ख़िलाफ़त बताता है। अमेरिका का कहना था कि इस्लामिक स्टेट ने धार्मिक अल्पसंख्यकों के ख़िलाफ़ अत्याचार किए हैं और मुख्यधारा के मुसलमानों को आतंकित करने वाले अति कट्टरपंथी इस्लाम के एक संस्करण की दुहाई देते हुए पांच महाद्वीपों पर हमले किए हैं।

पर हाल के वर्षों में समूह ने अपना अधिकांश क्षेत्र खो दिया था। बग़दादी के ख़िलाफ़त के विनाश ने समूह को आतंकी भर्ती व हथियारों की आमद से वंचित कर दिया था जहां से वह लड़ाकू विमान चालकों को प्रशिक्षित कर सकता था और विदेशों में समन्वित हमलों की योजना बना सकता था। अधिकांश सुरक्षा विशेषज्ञों का मानना ​​है कि इस्लामिक स्टेट गुप्त या अन्य हमलों के माध्यम से बग़दादी की मृत्यु के बाद भी ख़तरा बना हुआ है।

ट्रम्प ने कहा, “जब अमेरिकी सेना ने चढ़ाई की, जिस गुंडे ने दूसरों को डराने में अपना जीवन बिताया, उसने अपने अंतिम क्षणों को डर, दहशत और खौफ़ में बिताया।”

बग़दादी की मौत — ट्रम्प की ज़ुबानी

ट्रंप ने बताया कि बग़दादी एक सुरंग के अंदर था; जब सेना के कुत्तों ने उसका पीछा किया, वह भागते भागते सुरंग के अंत में पहुंच गया। फिर उसने अपने कपड़े में आग लगा ली जिससे उसने ख़ुद को और अपने तीन बच्चों को मार डाला।

बग़दादी के कपड़े शायद बारूद से लैस थे। सेना के सूत्रों ने अमेरिकी सरकार को सूचना दी कि कपड़ों में आग लगते ही ज़बरदस्त विस्फोट हुआ। बग़दादी का शरीर विस्फोटों से विकृत हो गया। विस्फोट से सुरंग ढह गया था, जिसका मलबा चारों लाशों पर गिरा।

ट्रम्प को इस महीने की शुरुआत में पूर्वोत्तर सीरिया से अमेरिकी सैनिकों की वापसी की घोषणा के लिए साथी रिपब्लिकन और डेमोक्रेट्स की आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। इस कारण तुर्की को अमेरिका के कुर्द सहयोगियों पर “सुरक्षित क्षेत्र” स्थापित करने के बहाने हमला करने का मौक़ा दे दिया था।

सैनिक वापसी के कई आलोचकों ने सीरिया में इस्लामिक स्टेट को हराने में अहम भूमिका निभाने वाले कुर्द बलों को छोड़ने पर चिंता व्यक्त की है। उनका कहना है कि इस क़दम से समूह को ताकत हासिल करने और अमेरिकी हितों के लिए खतरा पैदा हो सकता है।

Follow Sirf News on social media:

For fearless journalism

%d bloggers like this: