Wednesday 1 February 2023
- Advertisement -
Educationएयरटेल, वोडाफोन आइडिया के प्रीमियम प्लान पर ट्राई ने लगाई रोक

एयरटेल, वोडाफोन आइडिया के प्रीमियम प्लान पर ट्राई ने लगाई रोक

एयरटेल के प्रवक्ता ने कहा कि इसके साथ ही कंपनी पोस्ट-पेड ग्राहकों के लिए सेवा और जवाबदेही को बढ़ाना चाहती है। ट्राई ने एयरटेल को जवाब देने के लिए 7 दिन का समय दिया है

टेलिकॉम रेग्युलेटर की ओर से भारती एयरटेल का प्लैटिनम और वोडाफोन-आइडिया का रेडएक्स प्रीमियम प्लान ब्लॉक कर दिया गया है। दोनों ही कंपनियों के ये प्लान यूजर्स को ज्यादा तेज डेटा स्पीड और प्रॉयॉरिटी सर्विसेज दे रहे थे। इन प्लान्स से रिचार्ज करने वाले यूजर्स को बाकियों के मुकाबले बेहतर सुविधाएं दी जा रही थीं। ट्राई ने यह कहते हुए प्लान ब्लॉक किए हैं कि इसकी वजह से उन यूजर्स की सर्विस पर असर पड़ सकता है, जो प्रीमियम नहीं हैं।

वोडाफोन-आइडिया ने टेलिकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया के इस फैसले पर नाराजगी जताई है। कंपनी के एक सीनियर ऑफिशल ने कहा कि टेलिकॉम ऑपरेटर प्लान ब्लॉक किए जाने से हैरान है और उन्हें हफ्ते भर में इसपर ऐक्शन लेने को कहा गया है। कंपनी ने कहा कि उन्हें ट्राई को जवाब देने का मौका तक नहीं दिया गया। इसका सीधा मतलब यह है कि किसी भी तरह की प्रीमियम सर्विस वाले प्लान यूजर्स को नहीं मिलेंगे।

ट्राई ने इस बारे में दोनों परिचालकों- एयरटेल और वोडाफोन आइडिया को लिखा है और उनसे उनके प्लान के बारे में सवाल किए हैं, जिसमें कुछ तरजीही उपयोगकर्ताओं को तेज स्पीड देने का वादा किया है। नियामक ने पूछा है कि क्या उन विशिष्ट प्लानों में अधिक भुगतान वाले ग्राहकों को तरजीह, अन्य ग्राहकों के लिए सेवा में गिरावट की कीमत पर आई है। ट्राई ने परिचालकों से पूछा है कि वे दूसरे सामान्य ग्राहकों के हितों की रक्षा कैसे कर रहे हैं।

एयरटेल के प्रवक्ता ने कहा कि इसके साथ ही कंपनी पोस्ट-पेड ग्राहकों के लिए सेवा और जवाबदेही को बढ़ाना चाहती है। ट्राई ने एयरटेल को जवाब देने के लिए 7 दिन का समय दिया है। वोडाफोन-आइडिया के प्रवक्ता ने इस बारे में पूछने पर कहा, ‘‘वोडाफोन रेडएक्स प्लान हमारे मूल्यवान पोस्टपेड ग्राहकों के लिए असीमित डेटा, कॉल, प्रीमियम सामग्री, अंतरराष्ट्रीय रोमिंग पैक सहित कई फायदे मुहैया कराता है।” उन्होंने कहा कि कंपनी अपने ग्राहकों को अच्छी और हाई स्पीड की 4जी डेटा सेवाएं मुहैया करने के लिए प्रतिबद्ध है।

ट्राई इंडिया की ओर से कहा गया है कि इस तरह के प्लान्स का असर ना सिर्फ बाकी यूजर्स को मिल रही सर्विस की क्वॉलिटी पर पड़ता बल्कि नेट न्यूट्रलिटी रूल्स बनाए रखने के लिए भी ये चुनौती थे। ट्राई ने कहा, ‘दोनों ही कंपनियां उस पब्लिक डेटा हाई-वे पर एक अलग लेन बना रही थीं, जो पब्लिक रिसोर्सेज (स्पेक्ट्रम) का इस्तेमाल करता है। इस तरह अमीर कस्टमर्स को बाकियों से बेहतर सेवाएं देने का वादा किया गया था।’

11 जुलाई को दोनों कंपनियों को ट्राई की ओर से भेजे गए लेटर में कहा गया था कि फौरन अपनी स्कीम्स को रोक दिया जाए क्योंकि रेग्युलेटर दोनों ही स्कीम्स की डीटेल में जांच कर रहे हैं। कंपनियों से कहा गया था कि उन यूजर्स को प्रमोशनल सर्विसेज मिलती रहनी चाहिए, जो पहली ही इस स्कीम से रिचार्ज करवा चुके हैं। अब एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया से इन प्रीमियम प्लान्स को ब्लॉक करने के लिए कहा गया है।

Click/tap on a tag for more on the subject

Related

Of late

More like this

[prisna-google-website-translator]