Tuesday 19 January 2021
- Advertisement -

तनिष्क विज्ञापन से लव जिहाद को बढ़ावा, #BoycottTanishq हुआ ट्रेंड

तनिष्क वाले, पाखंडी जो कहने के लिये हिंदू है, वे हिंदुओं की बेटियों को मुस्लिमों की बहू बनाकर, उन्हे गर्भवती दिखलाकर पेश कर रहे हैं

- Advertisement -
Videos तनिष्क विज्ञापन से लव जिहाद को बढ़ावा, #BoycottTanishq हुआ ट्रेंड

आज सुबह लव जिहाद को बढ़ावा देते तनिष्क आभूषण ब्रांड के एक विज्ञापन के टीवी पर और सोशल मीडिया में आते ही ट्विटर पर #BoycottTanishq का ट्रेंड शुरू हो गया। बीस हज़ार से अधिक लोगों द्वारा इस हैशटैग का प्रयोग होते ही इसकी गिनती भारत के टॉप ट्रेंड्स में होने लगी। आनन् फानन में तनिष्क ने विज्ञापन को सभी माध्यमों से हटा दिया।

लव जिहाद का इससे संगीन और प्रत्यक्ष उदाहरण क्या होगा? तनिष्क जूलरी का यह विज्ञापन एक कुत्सित मानसिकता को बढ़ाने और हिन्दू लड़कियों को बरगलाने के लक्ष्य से प्रेरित है। एक सुनियोजित षड़यंत्र इस देश में ऐसे लोग रच रहे हैं कि सहज विश्वास नहीं होता, लेकिन सच तो सामने है।

दरअस्ल विज्ञापन 9 अक्टूबर को रिलीज़ हुआ था। लेकिन बड़े पैमाने पर आज ही इसे विभिन्न माध्यमों द्वारा प्रसारित किया गया।

विज्ञापन पर हल्ला मचते ही तनिष्क वालों ने YouTube पर इसकी सेटिंग बदल कर विडियो को प्राइवेट बना दिया जिससे कि उनकी साज़िश का अंदाज़ा लगाया जा सकता है। यानी कि मौक़ा मिलते ही ये फिर से विज्ञापन को सार्वजनिक कर सकते हैं। सोचिये कि यदि विज्ञापन में किसी मुसलमान महिला को हिन्दू परिवार की बहु दिखाया जाता तो अब तक क्या हाय-तौबा मच गई होती!

गदर फ़िल्म जब रिलीज़ हुई थी, तब उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्यप्रदेश और बंगाल के बड़े शहरों के सिनेमा घरों मे भयंकर तोड़-फोड़ ,आगजनी हुई थी, पर्दे फाड़ दिये गये और जला दिये गये थे। वजह यह थी कि फिल्म मे ताराचंद (सनी देओल) एक सिक्ख था और सकीना (अमीषा पटेल) एक मुस्लिम लड़की थी, जिनकी शादी हुई थी और सकीना को पर्दे पर गर्भवती दिखाया गया था।

तब इस फिल्म के निर्माता-निर्देशक को जान से मारने की धमकी ही नही मिली थी बल्कि बरेली के एक मौलवी ने सर कलम करने का ईनाम भी रखा दिया था, तब उत्तरप्रदेश मे मायावती की सरकार थी। मप्र मे दिग्विजय सिंह की सरकार थी, बिहार मे लालू यादव की सरकार थी।

तब इन तीनों सरकारों — माया, लालू और दिग्विजय सिंह — ने इस तोड़फोड़ आगजनी पर चुप्पी साध रखी थी।

एक फिल्म में अपने मज़हब की लड़की को प्रेग्नेंट देखकर आगजनी कर सकते है, तोडफोड़ कर सकते है, चक्का जाम कर सकते हैं तो ये कथित सेक्युलर उसे उनका धार्मिक मामला कह देते है और यहां तनिष्क वाले, पाखंडी जो कहने के लिये हिंदू है, वे हिंदुओं की बेटियों को मुस्लिमों की बहू बनाकर, उन्हे गर्भवती दिखलाकर पेश कर रहे हैं चाहते है की और चाहते हैं कि लोग तनिष्क का बहिष्कार भी न करें!

मुस्लिम लड़कियों को हिन्दू परिवार की बहू बनते दिखाओ तो माने सच्चे सेक्युलर हो।

यही मुद्दा आज बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रानौत ने भी उठाया।

अपेक्षित तौर पर ऋचा चड्ढा तुरंत तनिष्क के बचाव में कूद पड़ी। सनद रहे कि ऋचा इन दिनों अली फैज़ल को डेट कर रही है, अर्थात लव जिहाद की शिकार हो चुकी है।

सतीश चंद्र

- Advertisement -
Narad
Naradhttps://www.sirfnews.com
A profile to publish the works of established writers, authors, columnists or people in positions of authority who would like to stay anonymous while expressing their views on Sirf News

Views

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: