Categories
India

राम जन्मभूमि मामले के मुख्य पक्षकार महंत भास्कर दास की हालत गम्भीर

फैजाबाद – श्रीराम जन्म भूमि बाबरी मस्जिद विवादित परिसर में राम जन्मभूमि मामले के मुख्य पक्षकार और निर्माेही अखाड़े के सरपंच महंत भास्कर दास का स्वास्थ्य खराब हो गया है। उन्हें सांस लेने की तकलीफ के कारण गंभीर हालत में जनपद के एक निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है जहां पर उनका इलाज चल रहा है।

शहर के नाका क्षेत्र में स्थित नाका हनुमानगढ़ी मंदिर के महंत और निर्माेही अखाड़े के सरपंच महंत भास्कर दास बीते 50 वर्षों से अधिक समय से राम मंदिर मामले के मुख्य पक्षकार के तौर पर फैजाबाद के जिला एवं उच्च न्यायालय इलाहाबाद की लखनऊ खंडपीठ में मुकदमा लड़ चुके हैं और साल 2011 में विवादित भूमि पर उच्च न्यायालय का फैसला आने के बाद अब निर्माेही अखाड़े की ओर से सुप्रीम कोर्ट में उन्होंने अपने अधिवक्ता के जरिए मुकदमा दायर कर रखा है।

महंत भास्कर दास के शिष्य प्रशासक पुजारी रामदास ने बताया कि उनके गुरु का स्वास्थ्य काफी दिनों से खराब है और उनकी आयु करीब 89 वर्ष है। काफी दिनों से सांस लेने में दिक्कत की समस्या के चलते उन्हें हर्षण हृदय संस्थान में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है जहां पर उनकी हालत गंभीर बनी है । चिकित्सालय के डॉ. अरुण जायसवाल का कहना है कि महंत भास्कर दास को सांस लेने में दिक्कत हो रही है और उनकी हालत चिंताजनक बनी हुई है ,फिलहाल उन्हें बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है और ऑक्सीजन के जरिए वह सांस ले रहे हैं।