Wednesday 7 December 2022
- Advertisement -

Tag: literature

जन्माष्टमी पर हिंदू दोस्त को गोश्त खिलाती थीं इस्मत चुग़ताई

इस्मत चुग़ताई ने क़ुबूल किया कि उन्हें पता था कि फल, दालमोठ और बिस्कुट में कोई छूत जैसा नहीं था तो वे जन्माष्टमी के दिन अपनी हिंदू दोस्त को धोखे से मांस खिला देती थी

धर्म के मार्ग पर वापस आ ‘दिनकर’ को श्रद्धांजलि दें

सिर्फ़ न्यूज़ पर साहित्यिक चर्चा का शुभारम्भ हम राष्ट्रकवि एवं महान लेखक रामधारी सिंह ‘दिनकर’ को समर्पित करते हैं। इसी सप्ताह 24 अप्रैल को उनकी...
[prisna-google-website-translator]