Tuesday 27 October 2020

उद्धव ठाकरे का कार्टून फ़ॉरवर्ड करने पर शिवसैनिकों ने नेवी के पूर्व अफ़सर को पीटा

देवेन्द्र फडणवीस से घटना की भर्त्सना करते हुए कहा, 'यह बेहद दुखद और चौंकाने वाली घटना है। सिर्फ़ एक WhatsApp forward के कारण सेवानिवृत्त नौसेना अधिकारी को गुंडों ने पीटा।'

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का व्यंग्यात्मक कार्टून WhatsApp पर साझा करने से नाराज़ शिवसेना के दो शाखा प्रमुखों ने अपने पांच-छह समर्थकों के साथ सेवा निवृत्त नौसेना अधिकारी पर उनके घर में घुसकर हमला कर दिया। रिटायर्ड नेवल ऑफ़िसर की शिकायत पर शुक्रवार शाम को मामला दर्ज कर लिया गया है। फ़िलहाल इस मामले में किसी की गिरफ़्तारी नहीं हुई है।

बासठ-वर्षीय सेवानिवृत्त नौसेना के अफ़सर मदन शर्मा कांदिवली के शताब्दी अस्पताल में उपचाराधीन हैं। नेवी ऑफ़िसर ने कांदिवली पुलिस स्टेशन में शिवसेना कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज कराई है।

उद्धव ठाकरे का कार्टून फ़ॉरवर्ड करने पर शिवसैनिकों ने नेवी के पूर्व अफ़सर को पीटा

‘मैंने WhatsApp में एक कार्टून साझा किया था, शिवसेना के हमले के शिकार रिटायर्ड अफ़सर ने कहा। उन्होंने शिकायत की कि पुलिस उल्टा उन्हें गिरफ़्तार करने पर तुली हुई थी।

कांदिवली निवासी मदन शर्मा ने टीवी पर बताया कि शिवसेना के शाखा प्रमुख और अन्केय पार्टी के कार्यकर्ताओं ने उन्हें घर से बाहर आने को कहा और उन पर हमला किया।

भाजपा ने साधा ठाकरे, शिवसेना पर निशाना

भाजपा नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस से घटना की भर्त्सना करते हुए कहा, ‘यह बेहद दुखद और चौंकाने वाली घटना है। सिर्फ एक WhatsApp forward के कारण सेवानिवृत्त नौसेना अधिकारी को गुंडों से पिटवाया गया। कृपया इस गुंडाराज को रोकें, उद्धव ठाकरे जी। हम इन गुंडों के लिए कड़ी कार्रवाई और सजा की मांग करते हैं।’

भाजपा विधायक अतुल भातखलकर का आरोप है कि उनके विधानसभा क्षेत्र में स्थित ठाकुर कांप्लेक्स के निवासी मदन शर्मा पर शिवसैनिकों ने हमला किया और उनकी जान लेने की कोशिश की। शर्मा की आंख पर गंभीर चोट लगी है। साथ ही उनके पेट और पीठ पर भी काफी चोट आई है।

Image
शिवसेना के हमले के शिकार 62-वर्षीय सेवानिवृत्त नौसेना के अफ़सर मदन शर्मा

भातखलकर ने मामले में दोषियों के विरुद्ध कार्यवाही की मांग की है। उन्होंने कहा कि अब तो शिवसैनिक इतने निचले स्तर पर उतर आए हैं कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की आलोचना करने पर सेवानिवृत्त जवानों पर भी हमला करने लगे हैं।

‘यदि शिवसेना को लगता है कि इस तरह के गुंडों से डरकर मुंबई और राज्य की जनता चुप बैठ जाएगी तो यह शिवसेना और मुख्यमंत्री का भ्रम है, भातखलकर ने कहा। ‘जनता सत्ता का यह अहंकार समय आने पर उतार देगी,’ भातखलकर ने कहा। हमले की निदा करते हुए उन्होंने कहा कि इस तरह के हथकंडों से जनता की आवाज़ नहीं दबाई जा सकती।

You may be interested in...

All