मुंबई— भारतीय रिजर्व बैंक अगस्त की मौद्रिक समीक्षा बैठक में ब्याज दरों के मोर्चे पर यथास्थिति कायम रख सकता है। एचडीएफसी बैंक की एक रिपोर्ट में आज यह अनुमान लगाया गया है।

 

एचडीएफसी बैंक के अर्थशास्त्रियों ने एक नोट में कहा , ‘‘ यह एक नजदीकी और कड़ाई से संतुलन बैठाने का मामला होगा। लेकिन हमारा अनुमान है कि रिजर्व बैंक ब्याज दरों में बदलाव नहीं करने का फैसला लेगा। ’’

केंद्रीय बैंक की जून की मौद्रिक समीक्षा में रिजर्व बैंक ने ब्याज दरों में चौथाई प्रतिशत की वृद्धि की थी। उसके बाद आए आंकड़ों में मुद्रास्फीति बढ़ी है।

पिछले सप्ताह देश के सबसे बड़े भारतीय स्टेट बैंक के अर्थशास्त्रियों ने भी कहा था कि केंद्रीय बैंक ब्याज दरों में संभवत: बदलाव नहीं करेगा।

एचडीएफसी बैंक की रिपोर्ट में कहा गया है कि मुद्रास्फीति का जोखिम अभी कायम है। हालांकि खाद्य वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि ऐतिहासिक रुख से कम रही है। न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी पर रिपोर्ट में कहा गया है कि केंद्रीय बैंक अभी इंतजार करेगा और बारिश का वितरण देखेगा। चावल और गेहूं के अलावा अन्य वस्तुओं की खरीद आगे का रुख तय करेगी।