31.1 C
New Delhi
Sunday 31 May 2020

कर्नाटक की जनता चाहती है अच्‍छी सरकार, तभी जताया भरोसा—प्रकाश जावड़ेकर

उल्‍लेखनीय है कि कर्नाटक चुनाव के पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं यहां के चुनाव प्रभारी बनाए गए जावड़ेकर कई बार पत्रकारों के बीच भी सिद्धारमैया के कार्यकाल में हुए यहां के भ्रष्‍टाचार और कुशासन की बात करते हुए कांग्रेस की राज्‍य से विदाई हो रही है

बेंगलुरु— कर्नाटक में बहुमत की ओर बढ़ती भाजपा को देखकर जहां पार्टी में सभी दूर उत्‍साह का माहौल है वहीं कर्नाटक चुनाव प्रभारी रहे केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का इन नतीजों को लेकर बयान सामने आया है। उन्‍होंने कहा कि मैं पहले ही कह रहा था कि कर्नाटक की जनता इस बार भारतीय जनता पार्टी पर भरोसा कर रही है। उसे अपने राज्‍य में एक अच्छी सरकार चाहिए, इसलिए ही उन्‍होंने हम पर भरोसा जताया है और अपने लिए बीजेपी को चुना है। वहीं उन्‍होंने इसी के साथ कांग्रेस पर भी तंज कसते हुए कहा कि वह एक के बाद एक देशभर में लगातार राज्‍यों के चुनाव हार रही है और हम लगातार जीत रहे हैं, इससे भी यह सहज अंदाजा लगाया जा सकता है कि देश की जनता आखिर क्‍या चाहती है। वह आज भाजपा के साथ है वह विकास के साथ है। देश की जनता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व पर अपना अभार व भरोसा करती है।

उल्‍लेखनीय है कि कर्नाटक चुनाव के पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं यहां के चुनाव प्रभारी बनाए गए जावड़ेकर कई बार पत्रकारों के बीच भी सिद्धारमैया के कार्यकाल में हुए यहां के भ्रष्‍टाचार और कुशासन की बात करते हुए कांग्रेस की राज्‍य से विदाई हो रही है यह बात कह चुके हैं, जिसमें कि उन्‍होंने यहां तक कहा था कि कर्नाटक में दलितों और महिलाओं पर अत्याचार की घटनाएं लगातार बढ़ी हैं। इस दौरान कई दलित मारे गए हैं, उन्‍होंने कहा कि 358 दलित अभी तक पिछले पांच सालों में मारे गये तथा 9 हजार से अधिक मामले थानों में दर्ज किये गये हैं।

कांग्रेस विभाजन की राजनीति करने में विश्‍वास करती है, वह यही कार्य इस वक्‍त इस राज्‍य में करने में तुली है। वह दलित समुदाय समेत सभी वार्गों को आज आपस में लड़वाकर अपना शासन चलाते रहना चाहती है, जबकि भाजपा इसके उलट विकास और लोकतंत्र के प्रति समर्पित होकर कार्य करने में विश्‍वास करती है। उन्‍होंने यह भी कहा था कि भारतीय जनता पार्टी ने 2014 के बाद से लगातार 12 राज्यों में विधानसभा चुनाव जीते हैं, जिसमें से 10 राज्य ऐसे भी हैं जिनमें से कांग्रेस राज्‍य से बाहर हुई है। इसीलिए कांग्रेस को इस राज्‍य में जीत के दिन में सपने देखने की बेकार आदत को छोड़ देना चाहिए। वास्‍तव में कांग्रेस हमारे मुख्यमंत्री उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा को सत्‍ता में आने से नहीं रोक पाएगी। कर्नाटक प्रदेश की जनता इस बार भाजपा के साथ है और भारतीय जनता पार्टी यहां अपनी सरकार बनाने जा रही है।

हिन्‍दुस्‍थान समाचार

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

For fearless journalism

%d bloggers like this: