Thursday 3 December 2020
- Advertisement -
Home Videos भारत के डर से पाकिस्तान के पसीने छूटे; आज चुप हैं राहुल,...

भारत के डर से पाकिस्तान के पसीने छूटे; आज चुप हैं राहुल, केजरीवाल

भारतीय वायु सेना के फ़ाइटर पायलट अभिनंदन वर्तमान को लेकर पाकिस्तान आर्मी चीफ़ क़मर जावेद बाजवा और प्रधानमंत्री इमरान ख़ाब की घबराहट वाले बयान जो पाकिस्तानी सांसद के द्वारा जग-ज़ाहिर हुआ, उसके बाद,पाकिस्तान के बड़बोले मंत्री फ़वाद चौधरी ने संसद में दावा किया है कि पुलवामा हमला ख़ान सरकार की ‘कामयाबी’ थी।

अब अभिनंदन की क्या बात करते हैं? मुझे याद है शाह महमूद क़ुरेशी सा’ब उस मीटिंग में थे जिसमें प्राइम मिनिस्टर सा’ब ने आने से इनकार कर दिया और चीफ ऑफ़ आर्मी स्टाफ़ तशरीफ़ लाए. पैर काँप रहे थे, पसीने माथे पे थे. शाह महमूद सा’ब ने कहा, फॉरेन मिनिस्टर ने, कि ख़ुदा का वास्ता, इसको जाने दें, क्योंकि नौ बजे रात को हिंदुस्तान-पाकिस्तान पे अटैक कर रहा है (اب ابھیناندن کی کیا بات کرتے ہیں؟ مجھے یاد ہے شاہ محمود قریشی صاحب اس میٹنگ میں تھے جسمیں پرائم منسٹر صاحب نے آنے سے انکار کر دیا تھا اور چیف وف آرمی اسٹاف تشریف لاۓ تھے. پیر کانپ رہے تھے اور پسینے ماتھے پہ تھے. شاہ محمود صاحب نے کہا، فارن منسٹر نے کہا کہ خدا کا واسطہ، اس کو جانے دیں کیونکہ نو بجے رات کو ہندوستان پاکستان پہ اٹیک کر رہا ہے.) (You are talking about Abhinandan. I still remember that Shah Mahmood Qureshi was in that meeting in which PM Imran Khan had refused to come and Chief of Army staff was present… His feet were shaking…He was sweating… Foreign Minister said, for god’s sake, please let him go, otherwise, India will attack Pakistan at 9 pm tonight),” Pakistan Muslim League [PML(N)] league leader Sardar Ayaz Sadiq said on 28 October.

ऐसा पहली बार नहीं है जब पाकिस्तान ने अपने ही पैंतरेबाज़ियों में फँसकर आतंकवाद पर ख़ुद की पोल खोली है। सवाल यह है कि भारत में सबूत मांगने वाले गिरोह, भारतीय सैनिकों के शौर्य पर सवाल उठाने वाले कहाँ ग़ायब हो गए? क्यों आज चुप हैं कांग्रारेस के पूर्हुव अध्लयक्ष गांधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल?

Wing Commander Abhinandan Varthaman, the IAF pilot who became the face of a tense military confrontation between India and Pakistan in February, in September 2019 flew a sortie again — this time with Air Chief Marshal BS Dhanoa on a MiG 21 jet here.

बहस में भाग लिया सत्यान्वेषी भारत के कुमार श्रीकांत, विंग कमांडर प्रफुल्ल बक्षी, भाजपा के अनुरुद्ध सिंह, कांग्रेस के चन्द्र मोहन शर्मा, वकील राकेश सिंह परमार, धर्म प्रचारक अखिलेश गौतम और सिर्फ़ न्यूज़ के प्रमुख संपादक सुरजीत दासगुप्ता ने।

%d bloggers like this: