मैं कपिल विवाद से बाहर हूँ — कुमार विश्वास

0
कुमार विश्वास

नई दिल्ली — राजनैतिक विवादों और आरोपों में घिरी आम आदमी पार्टी (आप) की रविवार शाम पांच बजे शुरू हुई राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक पांच घंटे तक चली। मुख्यमंत्री और आप संयोजक अरविंद केजरीवाल के घर आयोजित 2017 में यह पार्टी की पहली राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक थी। कुमार विश्वास इस बैठक में कुछ देर से शामिल हुए। जबकि आशीष तलवार, मीरा सान्याल, दिनेश बाघेला बैठक में नहीं आए।

लगभग 5 घन्टे चली बैठक से निकल कर पार्टी नेता संजय सिंह ने कहा कि आप किसानों के ख़राब हालात पर देश भर में आंदोलन करेगी। दस जून से महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, पंजाब समेत तमाम राज्यों में आंदोलन शुरू होगा। संजय सिंह ने कहा बैठक में तय किया गया कि दिल्ली की तर्ज पर पार्टी देश भर में मजबूत संगठन बनाएगी।

इसके अलावा आप राष्ट्रीय कार्यकारिणी में किसानों की कर्ज माफी के लिए प्रस्तव पास किया गया। आंदोलन और संगठन की जिम्मेदारी प्रदेश प्रभारी पर होगी। संजय के मुताबिक पार्टी से जुड़े तमाम विवाद बनावटी और बेबुनियाद है। बैठक में इस पर चर्चा नहीं हुई। कपिल मिश्र के ताजा आरोपों पर गोलमोल जवाब देते हुए संजय सिंह ने कहा कि कपिल मिश्र के आरोप कापिल शर्मा के कॉमेडी शो से ज्यादा कुछ नहीं है।

इस बैठक में कार्यकारिणी के 25 पदाधिकारियों को न्यौता भेजा गया था। जिनमें से अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया, संजय सिंह, गोपाल राय, भगवंत मान, पंकज गुप्ता, दुर्गेश पाठक, राजेन्द्र गौतम, राघव चढ्ढा, हरजोत बैंस, बलजिंदर कौर, भावना गौड़, आशुतोष, एल्विज गोम्स, निशिकांत महापात्रा, पृथ्वी रेड्डी, कनु भाई कलसारिया, राखी बिड़लान, आतिशी मर्लिना, इमरान हुसैन, प्रीति शर्मा मेनन, आलोक अग्रवाल, साधु सिंह राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल हुए हैं।

मैं कपिल विवाद से बाहर हूँ — कुमार विश्वास

पार्टी के पूर्व नेता कपिल मिश्र का दावा है कि कुमार विश्वास के खिलाफ केजरीवाल के कहने पर दुष्प्रचार किया गया। बैठक से निकल कर जवाब में कुमार विश्वास में तंज कसते हुए प्रतिक्रिया दी है। कुमार ने कहा कि राजनीतिक जीवन में साजिश का शिकार होना पड़ता है लेकिन सब कुछ नियति के हाथ में होता है।

कुमार विश्वास ने कहा कि जब आप राजनीतिक जीवन में होते हैं तो आपके खिलाफ कई प्रकार के यश अपयश फैलाए जाते हैं। उन्हें ज्यादा बेहतर पता होगा, मुझे ज्यादा जानकरी नहीं है|

कुमार ने दोहे के जरिए जवाब देते हुए कहा कि “मैं निजी रूप से सत्य के साथ रह कर काम करता हूँ। मैं ये मानता हूं हानि-लाभ जीवन-मरण यश अपयश विधि हाथ… अगर मुझमें कभी कोई खराबी रही होगी तो अपयश फैलेगा, कोई खराबी नहीं होगी तो अपयश नहीं फैलेगा। मुझे लगता है कि ये जवाब आपके लिए पर्याप्त है।

महत्वपूर्ण ये है कि जहां कापिल मिश्रा के आरोपों को आप के नेता कॉमेडी शो बताते हैं, वहीं कुमार विश्वास ने कापिल के दावों पर बेहद गंभीरता से जवाब दिया। इससे जाहिर यही होता है कि पार्टी और खास तौर से केजरीवाल से उनके मतभेद खत्म नहीं हुए हैं। कुमार विश्वास की प्रतिक्रिया से कापिल के आरोपों पर विवाद और बढ़ सकता है।

कापिल के आरोपों की पुष्टि या खंडन के सवाल पर कुमार विश्वास ने कहा कि मैं इस विवाद से बाहर हूँ, जीवन में और बहुत सारे महत्वपूर्ण काम हैं। लेकिन कपिल मिश्र द्वारा केजरीवाल पर एक के बाद एक लगाए जा रहे आरोपों पर कुमार ने चुप्पी साध ली।

वहीं संजय सिंह ने कहा कि किसानों के खराब हालात पर देश भर में आंदोलन करेगी। दस जून से महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, पंजाब समेत तमाम राज्यों में आंदोलन शुरू होगा। संजय सिंह ने कहा बैठक में तय किया गया कि दिल्ली की तर्ज पर पार्टी देश भर में मजबूत संगठन बनाएगी। इसके अलावा आप राष्ट्रीय कार्यकारिणी में किसानों की कर्ज माफी के लिए प्रस्तव पास किया गया। आंदोलन और संगठन की जिम्मेदारी प्रदेश प्रभारी पर होगी।

संजय के मुताबिक पार्टी से जुड़े तमाम विवाद बनावटी और बेबुनियाद है। बैठक में इस पर चर्चा नहीं हुई। कपिल मिश्र के ताजा आरोपों पर गोलमोल जवाब देते हुए संजय सिंह ने कहा कि कपिल मिश्र के आरोप कापिल शर्मा के कॉमेडी शो से ज्यादा कुछ नहीं है।

इस बैठक में कार्यकारिणी के 25 पदाधिकारियों को न्यौता भेजा गया था। जिनमें से अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया, संजय सिंह, गोपाल राय, भगवंत मान, पंकज गुप्ता, दुर्गेश पाठक, राजेन्द्र गौतम, राघव चढ्ढा, हरजोत बैंस, बलजिंदर कौर, भावना गौड़, आशुतोष, एल्विज गोम्स, निशिकांत महापात्रा, पृथ्वी रेड्डी, कनु भाई कलसारिया, राखी बिड़लान, आतिशी मर्लिना, इमरान हुसैन, प्रीति शर्मा मेनन, आलोक अग्रवाल, साधु सिंह राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल हुए हैं। वहीं कुमार विश्वास इस बैठक में कुछ देर से शामिल हुए। जबकि आशीष तलवार, मीरा सान्याल, दिनेश बाघेला बैठक में आये नहीं हैं।

Previous article100% sewage treatment for cities along Ganga, Yamuna
Next articleBrains: 2 species, similar acts, different mechanisms