एनएचएआई ने टोल प्लाजा पर शुरू की फास्ट टैग लेन

0

नई दिल्ली – भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने इलेक्ट्रॉनिक शुल्क संग्रह के लिए शुक्रवार को देश भर के तमाम टोल प्लाजा पर एक विशेष लेन शुरू कर दी है। इस लेन में से केवल फास्ट टैग धारक वाहन राजमार्गों के टोल प्लाजा पर बिना रुके फर्राटा भर सकेंगे।

फास्ट टैग एक आरएफआईडी टैग है जो ऑनलाइन तथा ऑफलाइन (बैंक और सेवा केन्द्रों) उपलब्ध है। एनएचएआई ने 17 अगस्त को फास्ट टैग प्राप्त करने में आसानी के लिए 2 मोबाइल एप भी लांच किये हैं। केवल 2 सप्ताह में ही हजारों लोगों ने आवेदन पत्र डाउनलोड किये और फास्ट टैग खरीदा। 31 अगस्त तक फास्ट टैग का उपयोग बढ़कर 18 प्रतिशत हो गया।

सरकार ने यह व्यवस्था की है कि एक अक्टूबर 2017 से बेचे जाने वाले सभी नये वाहन एक्टिव फास्ट टैग से युक्त होंगे। देश के 6 हजार डीलर ‘फास्ट टैग पार्टनर एप’ का उपयोग कर सकते हैं और वाहन को सुपूर्द करते समय फास्ट टैग को सक्रिय कर सकते हैं।

Ad I

एनएचएआई ने बड़े पैमाने पर जागरुकता अभियान भी प्रारम्भ किया है ताकि उपयोगकर्ताओं को इसके फायदों की जानकारी मिल सके। एनएचएआई के अधिकारियों को व्यक्तिगत रूप से टोल प्लाजा जाने का सुझाव दिया गया है ताकि वे इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह गलियारे का जायजा ले सकें। एनएचएआई की योजना है कि जैसे-जैसे फास्ट टैग की संख्या बढ़ेगी वैसे ही अधिक-से-अधिक गलियारों को ईटीसी के अंतर्गत लाया जाएगा।

Ad B
Previous articleमोदी मंत्रिपरिषद का विस्तार रविवार को
Next articleदिल्ली: गाजीपुर में कूड़े का पहाड़ गिरा, दो मरे