Thursday 9 December 2021
- Advertisement -
HomePoliticsIndiaसीबीआई की संस्थागत ईमानदारी और विश्वसनीयता को कायम रखना अत्यंत आवश्यक —...

सीबीआई की संस्थागत ईमानदारी और विश्वसनीयता को कायम रखना अत्यंत आवश्यक — जेटली

जेटली ने बताया कि केंद्रीय सर्तकता आयोग (सीवीसी) ने ये सिफारिश बीती शाम को की थी

नई दिल्ली— वित्त मंत्री अरूण जेटली ने बुधवार को कहा कि सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा और विशेष निदेशक राकेश अस्थाना को हटाने का निर्णय सरकार ने सीवीसी की सिफारिशों के आधार पर लिया। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कहा कि एजेंसी की संस्थागत ईमानदारी और विश्वसनीयता को कायम रखने के लिए यह अत्यंत आवश्यक था।

जेटली ने बताया कि केंद्रीय सर्तकता आयोग (सीवीसी) ने ये सिफारिश बीती शाम को की थी।

जेटली ने संवाददाताओं से कहा कि देश की अग्रणी जांच एजेंसी के दो शीर्ष अधिकारियों के आरोप-प्रत्यारोप के कारण बहुत ही विचित्र तथा दुर्भाग्यपूर्ण हालात बने हैं।

उन्होंने कहा कि आरोपों की जांच विशेष जांच दल करेगा और अंतरिम उपाय के तौर पर दोनों को अवकाश पर रखा जाएगा।

मंत्री ने कहा कि यह हालात सामान्य नहीं हैं और आरोपियों को उनके ही खिलाफ की जा रही जांच का प्रभारी नहीं होने दिया जा सकता।

उन्होंने कांग्रेस समेत विपक्षी दलों के उन आरोपों को भी खारिज किया जिसमें कहा गया कि वर्मा को इसलिए हटाया गया क्योंकि वह राफेल लड़ाकू विमान सौदे की जांच करना चाहते थे।

जेटली ने कहा कि इन आरोपों को देखते हुए लगता है कि उन्हें (विपक्षी दलों को) यह भी पता चल रहा था कि संबंधित अधिकारी के दिमाग में क्या चल रहा है। इससे उस व्यक्ति की ईमानदारी पर अपनेआप ही सवाल खड़े होते हैं, जिसका कि वे समर्थन करने की कोशिश कर रहे हैं।

0 views

Sirf News needs to recruit journalists in large numbers to increase the volume of its reports and articles to at least 100 a day, which will make us mainstream, which is necessary to challenge the anti-India discourse by established media houses. Besides there are monthly liabilities like the subscription fees of news agencies, the cost of a dedicated server, office maintenance, marketing expenses, etc. Donation is our only source of income. Please serve the cause of the nation by donating generously.

Support pro-India journalism by donating

via UPI to surajit.dasgupta@icici or

via PayTM to 9650444033@paytm

via Phone Pe to 9650444033@ibl

via Google Pay to dasgupta.surajit@okicici

A South Korean high school student said that he will file a constitutional petition against the government's plan to expand the #COVID19 vaccine pass system to teenagers, claiming the measure amounts forcing people to get inoculated.

#SouthKorea

The whole media fraternity, both MSM & SM, national & international, are doing this at a monumental scale (nothing of the sort you are quoting) against Gujarat & Gujarati for decades demonizing them to no end.. and now doing the same against UP & UPiites.. https://twitter.com/mihirssharma/status/1468844856000794626

Mihir Sharma@mihirssharma

One of the useful things about Twitter is that it clearly reveals how much the BJP-leaning SM ecosystem despises Bengal and Bengalis
(and anything "intellectual") https://twitter.com/unraveaero/status/1468768758818738178

It was blissful moment with my spiritual mentor & guide Hg Sundar Gopal Prabhu at Kusuma Sarovar, Govardhan.He is very kind&friend of everyone,Equipped with all Saintly qualities,leader of leaders, philosopher,coach,musician& http://M.Tech(Gold Medalist)from IIT DELHI

It is easy to demonize Hindutva ideology because we never really learn about it.

(instead we know too much about one family)

A deep dive by @sreemoytalukdar into the history of Hindutva.

Fantastic piece.

https://www.firstpost.com/india/hindutva-is-the-assertion-of-hinduisms-political-identity-and-its-rise-is-an-inevitable-force-of-history-10197171.html

किसान आंदोलन स्थगित होगा मगर ख़त्म नहीं, लेकिन बॉडर से हटेंगे किसान अब सरकार द्वारा आश्वशन मिलने पर...।।

#FarmersProtest

Read further:

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

- Advertisment -

Now

Columns

[prisna-google-website-translator]
%d bloggers like this: