देश के नागरिकों को सुशासित व्यवस्था देना सरकार की प्राथमिकता— नरेंद्र मोदी

मेट्रो से 6 लाख गाड़ियों का दबाव कम हुआ है। नए भारत में सभी यातायात साधनों, बिजली पर अत्यधिक खर्च करके सारे प्रोजेक्ट पूरे किए जा रहे हैं

0
44

झज्जर— प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि देश के नागरिकों को सुशासित व्यवस्था देना सरकार की प्राथमिकता है। लोगों को घर व दफ्तर पहुंचने में कोई परेशानी न हो, इसके लिए एक स्टैंडर्ड पर काम किया जा रहा है। पूरे देश में मेट्रो का विकास चल रहा है। पहले मेट्रो को लेकर ठोस नीति नहीं थी। पूर्व सरकारों व नेताओं की मर्जी के चलते मेट्रो का बिखराव था।

भाजपा सरकार ने वर्ष 2017 में देश की पहली मेट्रो पॉलिसी बनाई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को दिल्ली से वीडियो क्रॉन्फेंसिंग के जरिये बहादुरगढ़ मेट्रो का शुभारंभ किया। वीडियो क्रॉन्फेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री ने कहा कि बहादुरगढ़ को गेटवे ऑफ हरियाणा कहा जाता है। यहां के लोगों के लिए मेट्रो सुविधा जरूरी थी।

मेट्रो सुविधा शुरू होने से यहां पर उद्योग बढ़ेगा व कालोनियों में विस्तार होगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली में 280 किमी मेट्रो ऑपरेशनल है। दुनिया के पांच प्रमुख देशों में दिल्ली का नाम मेट्रो से बढ़ेगा। मेट्रो के डिब्बे बनाने के लिए देश में आधुनिक प्लांट में काम हो रहा है। इसके साथ ही 75 प्रतिशत भारत में बना समान लगाना अनिवार्य किया गया है।

पहले कई देशों ने मेट्रो को लेकर हमारी मदद की लेकिन आज भारत कई देशों को कोच सप्लाई करने जा रहा है। केंद व राज्य सरकारों की भागीदारी से मेट्री पर काम हो रहा है। मेट्रो से प्रदूषण घटा है, दिल्ली एनसीआर में पूरा काम होगा तब आमजन बहुत सुखी होगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि दिल्ली के चारों ओर एक्स्प्रेस-वे से प्रगति हो रही है।

मेट्रो से 6 लाख गाड़ियों का दबाव कम हुआ है। नए भारत में सभी यातायात साधनों, बिजली पर अत्यधिक खर्च करके सारे प्रोजेक्ट पूरे किए जा रहे हैं। देश के ट्रांसपोर्ट सिस्टम से प्रगति होगी। 21वीं सदी में व्यवस्था मजबूत होने पर लोगों का जीवन आसान बनेगा। प्रधानमंत्री ने आह्वान किया कि सरकार के इन प्रयासों में आमजन की भागीदारी आवश्यक है। नए भारत के लिए मिलकर प्रयास करें। हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल इसके लिए बधाई के पात्र हैं।