भारत-बांग्लादेश मिलकर बचाएंगे सुंदरबन, बंगाल का बाघ

0
175

ढाका/नई दिल्ली — भारत और बांग्लादेश की सरकारें मिलकर अब विश्व के डेल्टा वन सुंदरबन संरक्षण की मुहिम छेड़ेंगे। इसके अलावा दोनों देश की संबंधित विभाग मिलकर बंगाल टाइगर बचाने का काम करेंगे। इन्हें लेकर भारत-बांग्लादेश के बीच एमओयू साइन किए गए। ये कदम भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की बांग्लादेश यात्रा के दौरान उठाए गए।

विदेश मंत्रालय ने बताया कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और बांग्लादेश के विदेश मंत्री एएच महमूद अली के बीच हुई बैठक के बाद तीन एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। जिसमें भारत-बांग्लादेश के बीच गंगा डेल्टा में फैले सुंदरबन डेल्टा वन का संरक्षण भी शामिल है। ये डेल्टा वन दुनिया में अपने तरह के विशेष प्रजाति वन हैं, जिनका लगातार क्षरण हो रहा है। सुंदरबन को बचाने के लिए अब दोनों देशों के संबंधित विभाग मिलकर काम करेंगे।

इसी तरह एक एमओयू सुंदरबन में पाए जाने वाले बंगाल टाइगर संरक्षण को लेकर है। जिसमें भारत-बांग्लादेश ने मिलकर विश्व में केवल यहीं पाई जाने वाली इस प्रजाति को बचाने के लिए संयुक्त अभियान छेड़ने का फैसला किया है। इसके अलावा एक एमओयू दोनों देशों के बीच स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर किया गया है।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भारत-बांग्लादेश संयुक्त सलाहकार आयोग की बैठक में हिस्सा लेने के लिए रविवार को बांग्लादेश की दो दिवसीय यात्रा पर हैं। यह आयोग द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा का राजनीतिक मंच है।