Tuesday 19 January 2021
- Advertisement -

स्टेशन छोड़ने के बहाने ऑटो में गैंगरेप, अभियुक्त वसीम, आज़ाद गिरफ़्तार

युवती के बयान पर सदर थाना में दोनों आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हुई है। युवती ने दर्ज प्राथमिकी में कहा है कि वह भटकते हुए रांची पहुंच गई थी

- Advertisement -
Politics India स्टेशन छोड़ने के बहाने ऑटो में गैंगरेप, अभियुक्त वसीम, आज़ाद गिरफ़्तार

सदर थाना की पुलिस ने एक युवती के साथ गैंगरेप करने के आरोप में मोहम्मद आज़ाद और मोहम्मद वसीम को सोमवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। दोनों अभियुक्त डोरंडा थाना क्षेत्र स्थित मनीटोला के रहने वाले हैं। आजाद कारपेंटर का काम करता है, वसीम ऑटो चालक है। सदर थाना की पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल करा दिया है। मेडिकल रिपोर्ट अभी पुलिस को नहीं मिल पाई है। पीड़िता का कोर्ट में बयान दर्ज कराया जाएगा। जेल जाते समय दोनों आरोपियों ने पुलिस को बताया कि उन्होंने दुष्कर्म की घटना को अंजाम नहीं दिया है।

पीड़ित युवती लोहरदगा जिला की रहने वाली है। युवती के बयान पर सदर थाना में दोनों आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हुई है। युवती ने दर्ज प्राथमिकी में कहा है कि वह भटकते हुए रांची पहुंच गई थी।

कांटाटोली चौक के समीप 17 अक्टूबर की रात वह लोहरदगा जाने के लिए खड़ी थी। पीड़िता को कोई गाड़ी नहीं मिलने की वजह से वह परेशान थी और रो रही थी। तभी डोरंडा इलाके में रहने वाली एक युवती मोहम्मद वसीम के ऑटो में सवार होकर डोरंडा स्थित अपने घर जा रही थी। कांटाटोली चौक के समीप युवती ने पीड़िता को रोते देखा तो उससे पूछताछ की। पीड़िता की परेशानी सुनने के बाद उसे कहा कि सुबह में उसे लोहरदगा भिजवा देगी। इसके बाद युवती पीड़िता को अपने साथ अपने घर लेकर चली गई।

अभियुक्त बहला-फुसलाकर पीड़िता को अपने साथ ले गया

सदर थाना की पुलिस का कहना है कि 17 अक्टूबर की रात वसीम के ऑटो में सवार होकर डोरंडा में रहने वाली युवती पीड़िता को लेकर अपने घर पहुंची। युवती की मां ने रिम्स में भर्ती उसके पिता को खाना पहुंचाने के लिए कहा। युवती घर से खाना लेकर उसी वक्त पीड़िता के साथ मोहम्मद वसीम के ऑटो में बैठकर रिम्स निकल गई। रिम्स पहुंचते ही युवती खाना लेकर अपने पिता के पास चली गई और पीड़िता रिम्स परिसर में ही टहलने लगी। अभियुक्त मोहम्मद वसीम पीड़िता को परेशान करने लगा। तब पीड़िता ने उससे कहा कि वह उसे स्टेशन छोड़ दे। स्टेशन छोड़ने के बहाने वसीम उसे बहला-फुसला कर रिम्स से दूर लेकर चला गया। मौके का फायदा उठाकर उसने अपने दोस्त आजाद को भी बुला लिया था। दोनों ऑटो में सवार होकर रिम्स से कुछ दूरी पर ऑटो में ही पीड़िता के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम देने लगे। पीड़िता ने शोर मचाया तो मौके पर पुलिस पहुंच गई और दोनों अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस का कहना है कि पीसीआर की टीम मौके पर पहुंची और दोनों आरोपियों से पूछताछ करने लगी तो आरोपियों ने कहा कि वे पीड़िता की मदद करने के लिए आए हैं। पीड़िता ने रोते हुए पूरी घटना की जानकारी पुलिस को दी। इसी बीच दोनों अभियुक्त पुलिस को चकमा देकर भागने का प्रयास करने लगे, लेकिन जवानों ने उन्हें दौड़ाकर पकड़ लिया।

दोनों अभियुक्त हैं शादीशुदा

पुलिस का कहना है कि पूछताछ में पता चला है कि दोनों अभियुक्त शादीशुदा हैं। दोनों की शादी 10 वर्ष पूर्व हो चुकी है। आरोपियों के बच्चे भी हैं। इसके बाद भी दोनों ने गैंगरेप जैसी घटना को अंजाम दिया है। दोनों आरोपियों के परिजनों को घटना के बारे में जानकारी दी गई तो कई लोग थाना पहुंचे और आरोपियों को खरी-खोटी सुनायी।

- Advertisement -

Views

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: