Tuesday 1 December 2020
- Advertisement -

जारी रहेगा भीषण गर्मी का दौर

- Advertisement -
Politics India जारी रहेगा भीषण गर्मी का दौर

नई दिल्ली — दिल्ली-एनसीआर में भीषण गर्मी पड़ रही है। तापमान आज सोमवार को 45 डिग्री के पार जाएगा, एक-दो दिन इसी तरह का मौसम बना रहेगा। रविवार के दिन सबसे ज्यादा तापमान 47 डिग्री था।

कोलकाता सहित पूरे दक्षिण बंगाल में पिछले कुछ दिनों से चल रहे लू के थपेडों से आम जनजनीवन बुरी तरह प्रभावित होने लगा है। गरमी का आलम यह है कि दिन के साथ-साथ रात में भी बेचैनी महसूूस हो रही है। न्यूनतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस के आस-पास है, जबकि अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस को पार कर चुका है। उस पर कहीं से भी राहत मिलने की कोई संभावना नजर नहीं आ रही है।

अलीपुर मौसम कार्यालय का कहना है कि अगले कुछ दिनों तक भीषण गर्मी का प्रकोप जारी रह सकता है। हवा में जीलय वाष्प की मात्रा बढ़ने से गर्मी और अधिक परेशानी पैदा कर सकती है। अगले कुछ दिनों तक बारिश की संभावना नहीं के बराबर है। हालांकि मंगलवार को कोलकाता व दक्षिण बंगाल के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हो सकती है लेकिन इससे ज्यादा राहत मिलने के आसार नहीं है।

उत्तर प्रदेश में भीषण गर्मी से लोग हीट स्ट्रोक के शिकार होने लगे हैं। गर्मी का पारा बढ़ने से अस्पतालों और डाॅक्टरों के यहां पर बीमार लोगों की लाइन लगी है। सरकारी अस्पतालों के वार्ड बीमारों से फुल है।

इस समय भीषण गर्मी पड़ने से अस्पताल मरीजों से भरे पड़े हैं। गर्मी के कारण लोगों को बुखार, उल्टी-दस्त ने अपनी चपेट में ले लिया है। लू की चपेट में आकर लोग हीट स्ट्रोक के शिकार हो रहे हैं। मेडिकल काॅलेज का मेडिसिन विभाग बीमार लोगों से भरा हुआ है। इसी तरह से बाल रोग विभाग की ओपीडी में बीमार बच्चों की लाइन लगी है।

मेडिकल के मेडिसिन विभागाध्यक्ष डाॅ. तुंगवीर सिंह आर्य ने बताया कि बीमार लोग उपचार के लिए लगातार मेडिकल काॅलेज में आ रहे है। इसी तरह से जिला अस्पताल का बच्चा वार्ड भी पूरी तरह से फुल हो चुका है। अस्पताल के डाॅ. आरके गुप्ता का कहना है कि भीषण गर्मी की चपेट में आकर लोग बीमार हो रहे हैं। बुखार, उल्टी-दस्त के मरीजों की जैसे बाढ़ आ गई है। शरीर में पानी की कमी की वजह से लोग बेहोश हो रहे है।

बीमारी से बचने के लिए लू में सीधे बाहर निकलने से बचें। सिर पर कपड़ा रखें और लगातार पानी पिए। भीषण गर्मी में खाली पेट घर से ना निकलें। दूषित पानी और बासी खाना खाने से बचें। साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। मच्छरों से बचने के लिए मच्छरदानी लगाए। शरीर में पानी की कमी ना होने दें।

- Advertisement -

Views

- Advertisement -

Related news

Weather report from Madhya Pradesh

Heavy to very heavy rainfall with isolated and extremely heavy falls reported in west Madhya Pradesh. Some rainfall observations (0830 hrs IST of yesterday...

Delhi colder than Shimla, Mussoorie: Here’s why

Kuldeep Srivastava, head of IMD's regional weather forecasting centre, explains the vagaries making the plains of Delhi chillier than hills
- Advertisement -
%d bloggers like this: