29 C
New Delhi
Sunday 7 June 2020

कांग्रेस नामदार, भाजपा कामदार — मोदी

कांग्रेस पर हमला करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेसी अधिक उत्साह में गलत बोल जाते हैं। वह मज़दूरों के लिए भी कुछ बोलते हैं तो उन्हें उनके परिश्रम की कीमत पता चलती लेकिन वो नामदार हैं, कामदार की परवाह नहीं कर सकते।

in

on

चामराजनगर | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को अपनी पहली जनसभा में अपनी सरकार की बिजली पहुंचाने संबंधी उपलब्धि गिनाई। उन्होंने प्रत्यक्ष तौर पर कांग्रेस अध्यक्ष पर हमला किया और कर्नाटक की वर्तमान सरकार पर विकास को अवरुद्ध करने का आरोप लगाया।

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस को नामदार (भाई भतीजावाद करने वाली) और भजपा को कामदार बताया।

मोदी ने अपने भाषण में पहली दो लाइनों ने कर्नाटक में कई देव और मठो का नाम लिया। वहीं मोदी ने कहा कि राज्य के भावी मुख्यमंत्री येदियुरप्पा हैं। राज्य में भाजपा की पकड़ को कमतर पेश किए जाने को लेकर कहा कि दिल्ली में खबर आती थी कि कर्नाटक में भाजपा की हवा चल रही है, जबकि यहां देख कर लगता है आंधी चल रही है।

जनसभा में पहुंचे लोगों को आश्वासन देते हुए मोदी ने कहा कि आपकी तपस्या बेकार नहीं जाने देंगे। प्रधानमंत्री ने एक मई को कई महत्वपूर्ण घटनाओं का साक्षी करार देते हुए कहा कि आज मेहनत करने वालों का दिन है। साथ ही उन्होंने संकल्प की सिद्धि के तहत 28 अपैल को जो हासिल किया है वह देश को समर्पित करना चाहता हूं। 28 अप्रैल को कठिन इलाकों में 18 हज़ार गांवों तक बिजली पहुंचाने का काम पूरा किया। इन मेहनत करने वाले मजदूर वर्ग का साधुवाद करता हूं।

पीएम ने बताया कि मणिपुर का लिसांग गाँव आखिरी गांव बना जहां बिजली पहुंची। कांग्रेस पर हमला करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेसी अधिक उत्साह में गलत बोल जाते हैं। वह मज़दूरों के लिए भी कुछ बोलते हैं तो उन्हें उनके परिश्रम की कीमत पता चलती लेकिन वो नामदार हैं, कामदार की परवाह नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि आज गरीब परिवार में बिजली नहीं है। वह पूछना चाहते है कि आजादी के 70 साल बाद भी 4 करोड़ लोगों तक बिजली की उपलब्धता नहीं है, इसके लिए पूर्व की सरकारें दोषी हैं। मगर हमारी सरकार समय सीमा में मुफ्त में इनको बिजली कनेक्शन देगी।

मोदी ने कहा कि कांग्रेस नेतृत्व को वंदेमातरम का इतिहास और अपनी पार्टी का ही नहीं पता है। पूर्व की कांग्रेस सरकार के दौरान 2005 में मनमोहन ने कहा था कि देश के हर गांव में बिजली पहुंचा देंगे, लेकिन यह सिर्फ घोषणा ही रही। संस्कारों की बात करते हुए पीएम ने कहा कि वो तो मनमोहन सिंह के निर्णय को प्रेसवार्ता में फाड़ देते हैं। कम से कम मां की बात तो मानों। सोनिया जी ने 2009 तक हर घर में बिजली पहुंचाने की बात की थी… 2014 तक सरकार में भी रहे, तक क्यों नहीं पूरे किए वायदे। 2014 में 39 गांवों में बिजली नहीं थी, मगर हमारी सरकार ने योजनाबद्ध तरीके से वहां बिजली पहुंचाई है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस कर्नाटक में सोने वाले मुख्यमंत्री का 2+1 का फार्मूला लेकर चल रहे हैं। जहां से हारना था वहां अपने बेटे को खड़ा कर दिया। मंत्रियों के लिए 1+1 का फार्मूला है, कितने मंत्रियों के बेटे को टिकट दिया गया यह उसका प्रमाण है। कांग्रेस के नामदारों के आगे कामदार भी हार रहे हैं। मगर केंद्र सरकार ने कई कड़े फैसले लेकर देश को ईमानदारी की दिशा में ले जाने को प्रयासरत है। किसी से छुपा नहीं है कि नोटबन्दी के बाद कहां से क्या-क्या निकला।

रही बात कर्नाटक की तो यहां न तो कानून है और न ही व्यवस्था। यहां लोकायुक्त भी सुरक्षित नहीं है, आम आदमी की बात ही अलग है। मोदी ने कहा कि चामराजनगर में रोजगार की व्यवस्था नहीं है। किसानों के लिए भी कुछ विशेष नहीं किया गया है। मगर हम किसान की हर आवश्यकता में ध्यान दे रहे हैं। किसान को बीमा से सुरक्षित करने का काम हमारी सरकार ने किया है। 14 लाख से ज्यादा किसानों ने लाभ उठाया है। हमने नया एमएसपी दिया है — 99 सिंचाई योजना दी है, जिसमें से 5 कर्नाटक में हैं। दूसरी ओर, कांग्रेस है जो विकास की योजनाओं पर भी राजनीति करती है।

चामराजनगर में विकास की रेल 5 साल से अटकी हुई है। जनता की पाई-पाई का उपयोग जानता की भलाई के लिए होना चाहिए। बैंगलोर-मसूर के लिए एक्सप्रेस-वे बनाने की योजना पर, जो राज्य की कांग्रेस सरकार के रवैये से अटकी पड़ी है। ऐसे में आप तक विकास की पहुंच सुगम बनाने के लिए आप हमारा साथ दीजिये, दिल्ली आपका साथ देगी।

1,209,635FansLike
180,029FollowersFollow
513,209SubscribersSubscribe

Leave a Reply

For fearless journalism

%d bloggers like this: