सिने कर्मियों ने हड़ताल समाप्ति की घोषणा की

0
205

मुंबई -15 अगस्त से शुरु हुई सिने कर्मियों की हड़ताल समाप्त करने की आज घोषणा कर दी गई। महाराष्ट्र के श्रम मंत्री द्वारा हड़ताली यूनियन के प्रतिनिधियों को दिए गए आश्वासन के बाद इस 16 दिन पुरानी हड़ताल को आज समाप्त करने की घोषणा कर दी गई। इस हड़ताल में मुंबई फिल्म इंडस्ट्री की 22 यूनियन शामिल थीं, जबकि 6 अन्य प्रमुख एसोसिएशन इस हड़ताल से बाहर थीं।

हड़ताली कर्मियों की ओर से सिने एंप्लाइज यूनियन के नेता दिलीप पिठवा ने बताया कि आज श्रम मंत्री की ओर से इस हड़ताल की स्थिति का आकलन करने के लिए मंत्रालय में एक बैठक बुलाई जानी थी, जिसमें सरकार, हड़ताली कर्मियों के प्रतिनिधि और सिने निर्माताओं के प्रतिनिधियों को शामिल होने के लिए बुलाया गया था| हालांकि मुंबई में मंगलवार से भारी जलभराव के मद्देनजर राज्य सरकार द्वारा बुधवार को राजकीय छुट्टी घोषित किए जाने के बाद इस बैठक को रद्द कर दिया गया, लेकिन श्रम मंत्री के आश्वासन के बाद इस हड़ताल को वापस लेने का फैसला घोषित हो गया। हड़ताली नेताओं के मुताबिक, श्रम मंत्री ने भरोसा दिलाया है कि सरकार उनकी मांगों को लेकर सहानुभूतिपूर्वक विचार करेगी और एक ऐसा समाधान निकालेगी, जो सभी संबंधित पक्षों को मान्य होगा।

हड़ताली नेताओं का कहना है कि हम पहले दिन से यही कह रहे थे कि हमारी मांगों को सुना जाएगा, तो हम काम पर लौट आएंगे। इस हड़ताल वापसी की घोषणा पर फिल्म निर्माताओं की संस्था गिल्ड ने पहली प्रतिक्रिया में इसे सत्य की जीत कहा है और इसे राहत वाली खबर कहा है। गिल्ड के एक बड़े निर्माता ने कहा कि हम बातचीत के पक्ष में थे, लेकिन हमारा कहना था कि हड़ताल खत्म करके बातचीत की मेज पर सभी पक्ष कोई हल निकाल सकते हैं। इन 22 यूनियनों के तकरीबन 2.50 लाख कर्मचारी बेहतर वेतन भत्ते, बीमा योजनाओं को लागू करने की मांगों को लेकर हड़ताल पर थे, जिसके चलते पिछले दो सप्ताह में कई फिल्मों और टीवी सीरियलों की शूटिंग ठप हुई। अनुमान लगाया जाता है कि इस हड़ताल से फिल्म इंडस्ट्री को 300 करोड़ से ज्यादा का नुकसान हुआ है।

Leave a Reply