Thursday 9 December 2021
- Advertisement -
HomePoliticsIndiaभारत में ‘चरमपंथी गतिविधि’ को लेकर ब्रिटेन के कई जगहों पर पुलिस...

भारत में ‘चरमपंथी गतिविधि’ को लेकर ब्रिटेन के कई जगहों पर पुलिस की छापेमारी

बयान के मुताबिक, ‘‘भारत में चरमपंथी गतिविधि और धोखाधड़ी के अपराधों के आरोपों के सिलसिले में यह तलाशी ली जा रही है। किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है

लंदन —ब्रिटेन के आतंकवाद निरोधक अधिकारियों ने मंगलवार को ‘‘भारत में चरमपंथी गतिविधि और धोखाधड़ी के अपराधों’’ के आरोप में मध्य इंग्लैंड के कुछ घरों में छापेमारी की। वेस्ट मिडलैंड्स काउंटर टैरेरिज्म यूनिट (डब्ल्यूएमसीटीयू) की अगुवाई वाली इस जांच के तहत कोवेंट्री, लेस्टर और बर्मिंघम में छापेमारी की गई। छापेमारी अब भी जारी है और अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है।

 

वेस्ट मिडलैंड्स पुलिस ने एक बयान में कहा, ‘‘डब्ल्यूएमसीटीयू की जांच के तहत जांचकर्ता कई घरों की तलाशी ले रहे हैं। कोवेंट्री, लेस्टर और बर्मिंघम में आज रिहायशी पतों की डब्ल्यूएमसीटीयू द्वारा तलाशी ली गई। ईस्ट मिडलैंड्स स्पेशल ऑपरेशंस यूनिट – स्पेशल ब्रांच (ईएमएसओयू-एसबी) के समर्थन से इस कवायद को अंजाम दिया जा रहा है।’’

बयान के मुताबिक, ‘‘भारत में चरमपंथी गतिविधि और धोखाधड़ी के अपराधों के आरोपों के सिलसिले में यह तलाशी ली जा रही है। किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है।’’

छापेमारियों की प्रकृति या अभियान में लक्षित संदिग्धों के बारे में सुरक्षा बलों ने कोई ब्योरा नहीं दिया, लेकिन ब्रिटेन के एक सिख संगठन ने बयान जारी कर चिंता जताई कि ‘‘भारतीय पुलिस अधिकारी ब्रिटेन में हो सकते हैं और ब्रिटिश पुलिस के जरिए सिख कार्यकर्ताओं को निशाना बना सकते हैं।’’

एक स्वतंत्र सिख राष्ट्र बनाने के लिए अभियान चलाने वाले संगठन ‘सिख फेडरेशन यूके’ ने कहा, ‘‘अभी हमारा 35वां वार्षिक अंतरराष्ट्रीय सिख सम्मेलन वेस्ट मिडलैंड्स में काफी सफलतापूर्वक संपन्न हुआ और यहां ब्रिटेन में भारतीय पुलिस अधिकारियों ने उठाया होगा इसमें संदेह नहीं है हमें एक स्वतंत्र सिख राष्ट्र खालिस्तान के लिए लॉबिइंग और राजनीतिक गतिविधि के लिए मिल रहे समर्थन पर चिंता जाहिर की होती।’’

1 view

Sirf News needs to recruit journalists in large numbers to increase the volume of its reports and articles to at least 100 a day, which will make us mainstream, which is necessary to challenge the anti-India discourse by established media houses. Besides there are monthly liabilities like the subscription fees of news agencies, the cost of a dedicated server, office maintenance, marketing expenses, etc. Donation is our only source of income. Please serve the cause of the nation by donating generously.

Support pro-India journalism by donating

via UPI to surajit.dasgupta@icici or

via PayTM to 9650444033@paytm

via Phone Pe to 9650444033@ibl

via Google Pay to dasgupta.surajit@okicici

किसान आंदोलन खत्म हो गया। "हम जीत गए" की लाइन हर दूसरा आदमी बोलता सुनाई दे रहा है आंदोलन का। अब उम्मीद की जानी चाहिए कि इस जीत के बाद देश का गरीब किसान बमबम हो जाएगा, बड़े घरों में रहेगा, बच्चों को अंग्रेजी स्कूल में पढ़ाएगा और किसान की आत्महत्याएं अब हमेशा के लिए बंद हो जाएंगीं।

Among 19 economic HFIs, there are some indicators whose recovery is way beyond 100%, such as e-way bill by volume, coal production & rail freight traffic which suggests that not only recovery is complete, the economic growth is now gathering momentum too.

India's civil aviation industry is moving from nascency towards growth phase and progressing very rapidly in the area of aircraft manufacturing. Have plans to increase the number of airports from 138 to 220 in 4-5 years: Civil Aviation Minister Jyotiraditya Scindia in Lok Sabha

"#जनरल_बिपिन_रावत जी देश के लिए जिए और मातृभूमि की सेवा करते-करते ही आखिरी सांसें लीं। चलिए मिलकर कोशिश करें कि उन्हें फील्ड मार्शल की रैंक से सम्मानित कर के देशसेवा की उनकी कहानी को अमर बनाया जाए।" @amritabhinder @ImRo45

-रुपायन

क्लिक- http://change.org/GeneralRawatKeLiye

माँ बगलामुखी की पूजा में पीले आसन, पीले वस्त्र, पीले फल और पीले भोग का प्रयोग करना चाहिए। माँ के मंत्र जाप के लिए हल्दी की माला का प्रयोग करना चाहिए।

Read further:

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

- Advertisment -

Now

Columns

[prisna-google-website-translator]
%d bloggers like this: