हुसैनी इमारत हादसे में मृतकों की संख्या 33 हुई

0
173

मुंबई – दक्षिण मुंबई के जे.जे मार्ग पुलिस थाना क्षेत्र में भिंडीबाजार स्थित हुसैनी इमारत हादसे में अब तक 33 लोगों की मौत हो चुकी है और इस घटना में 14 से अधिक लोग घायल हुए हैं। मृतकों में 24 पुरुष व 09 महिलाएं शामिल हैं। इमारत दुर्घटना में घायल हुए 14 में से 04 लोगों को घर भेज दिया गया है, जबकि 10 घायलों का इलाज जे.जे व सैफी अस्पताल में चल रहा है।

मुंबई शहर के दक्षिण मुंबई के भिंडी बाजार में सौ वर्ष से अधिक पुरानी इमारत ताश के पत्तों की तरह गुरुवार की सुबह साढ़े आठ बजे के करीब ढह गई। मुख्यमंत्री ने इस इमारत दुर्घटना की जांच अपर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में समिति गठित करके करवाए जाने की घोषणा की है, उधर म्हाडा ने इस मामले की जांच के लिए उप मुख्य अभियंता की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया है।

गृहनिर्माण मंत्री प्रकाश मेहता ने कहा कि इस घटना के बाद सरकार अब किसी भी हालत में जर्जर इमारतों में किसी को नहीं रहने देगी और सभी जर्जर इमारतों को खाली करवा लिया जाएगा। गुरुवार को इस घटना की जानकारी मिलते ही फायर ब्रिगेड व एनडीआरएफ की टीम तत्काल घटनास्थल पर पहुंच गई और बचाव व राहत कार्य शुरू कर दिया, जो गुरुवार को समाचार लिखने तक जारी रहा। बचाव व राहत कार्य के दौरान फायर ब्रिगेड व एनडीआरएफ की टीम के कुछेक जवान घायल हो गए हैं।

इमारत से कुल 46 लोगों को निकाला गया है। हालांकि मलबे को हटाने का काम अभी भी युद्धस्तर पर चल रहा है। बताया जाता है कि 125 वर्ष पहले इस इमारत को तीन मंजिला बनाया गया था और बाद में इसमें दो मंजिला अवैध रूप से बना लिया गया था। तल मंजिल पर मिठाई बनाने की दुकान और अन्य गोडाउन थे, जिसमें लोग रहते भी थे। इमारत खतरनाक घोषित हो चुकी थी, बावजूद इसके लोग उसमें रह रहे थे।

Leave a Reply