23 C
New Delhi
Sunday 31 May 2020

अयोध्या — मंदिर निर्माण के लिए भूमि समतल करते समय मिली प्राचीन मूर्तियाँ

अयोध्या में जल्द ही राममंदिर ट्रस्ट का कार्यालय भी खुल जाएगा। रामजन्मभूमि परिसर के पास राम कचहरी मंदिर में ट्रस्ट के कार्यालय का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है

देशभर में जारी लॉकडाउन के चौथे फेज में कंस्ट्रक्शन में रियायत दी गई हैं। इसके बाद अयोध्या में 67 एकड़ जमीन पर राम मंदिर निर्माण का काम शुरू हो गया है। मंदिर निर्माण के लिए जमीन समतल करने का काम चल रहा है। इस दौरान यहां पर देवी-देवताओं की खंडित मूर्तियां, पुष्प कलश और नक्काशीदार खंबो के अवशेष मिले हैं। राम जन्मभूमि परिसर में 11 मई से जमीन को समतल करने और बैरीकेडिंग हटाने का काम किया जा रहा है।

राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने अब तक जहां-जहां खुदाई हुई है, वहां से और आसपास की जगहों से बड़ी तादाद में देवी-देवताओं की खंडित मूर्तियां, पुष्प कलश, कलाकृतियां निकली हैं। ब्लैक टच स्टोन के सात खंबे, छह रेडसैंड स्टोन के खंबे, पांच फुट के नक्काशीनुमा शिवलिंग और मेहराब के पत्थर मिले हैं।

इसे भी पढ़े: Kangana Ranaut next film to be based on Ayodhya Ram Mandir

चंपत राय ने बताया कि डीएम एके झा ने इस काम की मंजूरी दी है। निर्माण कार्य के दौरान कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सुरक्षा मानकों का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। काम के दौरान मास्क लगाना और सोशल डिस्टेसिंग का सख्ती से पालन करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि परिसर की पटाई और दर्शन मार्ग में लगे एंगल और बैरिकेडिंग को हटाने में तीन जेसीबी, एक क्रेन और 10 मजदूर लगाए गए हैं। इसके बाद यहां मंदिर के लिए प्लेटफॉर्म तैयार किया जाएगा।

राम मंदिर निर्माण के लिए बनाई गई ट्रस्ट श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र का कहना है कि समतलीकरण के दौरान काफी संख्या में पुरावशेष यथा देवी-देवताओं की खंडित मूर्तियां, पुष्प, कलश, आमलक, दोरजाम्ब आदि कलाकृतियां, मेहराब के पत्थर, 7 ब्लैक टच स्टोन के स्तम्भ, 8 रेड सैंड स्टोन के स्तंभ और 5 फिट आकार की नकाशीयुक्त शिवलिंग की आकृति मिली है। परिसर के समतलीकरण के बाद मंदिर निर्माण की प्रक्रिया शुरू होगी।

इसे भी पढ़े: उत्तर प्रदेश में 2,500 से ज़्यादा मदरसे फ़र्ज़ी

अयोध्या में जल्द ही राममंदिर ट्रस्ट का कार्यालय भी खुल जाएगा। रामजन्मभूमि परिसर के पास राम कचहरी मंदिर में ट्रस्ट के कार्यालय का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। संचालन के लिए कंप्यूटर और दूसरी जरूरी चीजें आ चुकी हैं। कार्यालय में केवल फिनिशिंग का काम बाकी है। इसी कार्यालय में बैठकर ट्रस्टी आगे की रूपरेखा तय करेंगे।

इन्हें अवश्य पढ़ें —

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

For fearless journalism

%d bloggers like this: