Friday 23 October 2020

महज़ 25 साल में हिंदू-विहीन हो गए 50 गांव

इसमें हिंदू उत्पीड़न की कई घटनाओं का जिक्र करते हुए कहा गया है कि 25 वर्षों में मेवात के 50 गांव हिंदू विहीन हो चुके हैं

वीएचपी जांच कमेटी की रिपोर्ट, 25 वर्षों में हिंदू विहीन हुए मेवात के 50 गांव। विश्व हिंदू परिषद की ओर से मेवात में हिंदुओं के उत्पीड़न को लेकर बृहस्पतिवार को गठित की गई तीन सदस्यीय जांच कमेटी ने एक दिन बाद शुक्रवार को अपनी रिपोर्ट संगठन के केंद्रीय नेतृत्व को सौंप दी है। रिपोर्ट रोंगटे खड़े करने वाली है। इसमें हिंदू उत्पीड़न की कई घटनाओं का जिक्र करते हुए कहा गया है कि 25 वर्षों में मेवात के 50 गांव हिंदू विहीन हो चुके हैं।

इसे भी पढ़े: Kashi Vishwanath temple bans entry of Prithviraj Chavan & family

संपूर्ण मेवात में हिंदू विरोधी व राष्ट्र विरोधी षडयंत्र हो रहा है। प्रताड़ना के कारण हिंदुओं का पलायन होता रहा है। 25 वर्षों में 25 गांव हिंदू विहीन हो चुके हैं। हिंदू महिलाओं से दुष्कर्म आम है। हिंदुओं की व्यक्तिगत, सार्वजनिक व मंदिरों की जमीनों पर कब्जे हो रहे हैं। हिंदुओं के धार्मिक प्रतीकों का अपमान हो रहा है। विरोध करने पर सैंकड़ों जिहादियों की भीड़ हमला करती रही है। सोशल मीडिया पर राष्ट्र व हिंदू विरोधी पोस्ट चलती है। संतों के साथ मारपीट की जा रही है।

इसे भी पढ़े: Kidnappers in Pakistan to release Hindu boy only if family embraces Islam

पुन्हाना व नगीना खंडों में अत्याचार अधिक है। हिंदुओं को जबरन धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर किया जा रहा है। कट्टरपंथियों के पैसे से मस्जिदों का निर्माण आम है। जांच कमेटी के सदस्य स्वामी धर्मदेव ने बताया कि हमने मेवात से जुड़े कई प्रमुख लोगों से मुलाकात की। उन लोगों की मदद ली, जिन्हें मेवात में जारी गतिविधियों की बारीक जानकारी थी। तीन सदस्यीय कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में सही तथ्य सामने रखे हैं।

You may be interested in...

All