बीजेपी की हार के सदमे से स्वयंसेवक की मौत

जब उन्होंने टीबी पर फूलपुर के बाद गोरखपुर की हार की खबर सुनी तो वे अचानक बेहोश हो गए और कुछ ही समय बाद उनका निधन हो गया

0
131

लखनऊ — उत्तर प्रदेश के फूलपुर और गोरखपुर में हुए उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की हार की ख़बर सुन संघ से जुड़े कार्यकर्ता कृष्ण बिहारी मिश्र का निधन हो गया है। वे क़रीब 68 वर्ष के थे। उन्हें डायबिटीज़ की बीमारी थी। वे अपने पीछे तीन पुत्र व एक बेटी छोड़ गए हैं। उनके निधन पर संघ से जुड़े कार्यकर्ताओं में शोक की लहर है।

त्रिवेणीनगर निवासी स्व० मिश्र के पुत्र दुर्गेश मिश्र ने बताया कि बुधवार को घर में उपचुनाव के नतीजे को लेकर चर्चा चल रही थी। जब उन्होंने टीबी पर फूलपुर के बाद गोरखपुर की हार की खबर सुनी तो वे अचानक बेहोश हो गए और कुछ ही समय बाद उनका निधन हो गया। दुर्गेश धर्म जागरण से जुड़े हुए हैं।

छोटे पुत्र देवेश के मुताबिक़ पिता टेलीविजन में बीजेपी की हार बर्दाश्त नहीं कर सके और अचानक चीख़ने के बाद एकाएक उनके प्राण निकल गए। संघ से जुड़े कार्यकर्ता के निधन पर परिवार में कोहराम मच गया।

कृष्ण बिहारी की मृत्यु की जानकारी पर संघ से जुड़े अन्य कार्यकर्ता, भाजपा नेताओं व पदाधिकारियों के उनके आवास पर भीड़ जुटना शुरु हो गई है।

हिन्दुस्थान समाचार/दीपक