34 C
New Delhi
Monday 6 July 2020

11 साल की भारतीय मूल की छात्रा ने जीता अमेरिका का यंग साइंटिस्ट चैलेंज

नई दिल्ली — अमेरिका में रह रही भारतीय मूल की 11 साल की छात्रा गीतांजली राव ने अमेरिका का यंग साइंटिस्ट चैलेंज जीत लिया है। 11 साल की इस छात्रा ने पानी में सल्फर की मात्रा पहचान करने का एक बहुत ही सरल उपकरण बनाया। गीतांजली राव को 16 लाख रुपये से अधिक पुरस्कार के रूप में दिए गए हैं।

गीतांजली राव ने अमेरिका का सबसे प्रतिष्ठित यंग साइंटिस्ट चैलेंज जीता है जिसमें पूरे अमेरिका से पांचवीं से आठवीं कक्षा तक पढ़नेवाले छात्र-छात्राएं हिस्सा लेते हैं।

गीतांजली 7वीं कक्षा की छात्रा है और उसे यह उपकरण बनाने की प्रेरणा अपने मां-बाप को पानी में सल्फर की मात्रा जांचने में आने वाली कठिनाइयों को देखकर मिली। इसके लिए गीतांजली ने एक  वैज्ञानिक कैथलीन शाफेर के साथ तीन महीनों तक काम किया।

गीतांजली के अलावा इस चैलेंज के फाइनल में पहुंचने वाले 10 प्रतियोगियों में से चार प्रतियोगी भारतीय मूल के छात्र-छात्राएं हैं।

Follow Sirf News on social media:

For fearless journalism

%d bloggers like this: