दो ब्लैक होल के टकराने की तरंगे हुई महसूस

0
105

नई दिल्ली – दो अरब प्रकाशवर्ष दूर दो ब्लैकहोल आपस में टकराये और एक हो गये जिससे आकाश और समय में तरंगे पैदा हुई जिन्हें इटली और वाशिंगटन स्थित प्रयोगशालाओं ने महसूस किया है।

यह चौथी बार है जब गुरुत्व तरंगे महसूस की गई हैं और पहली बार है जब उसकी संरचना को वैज्ञानिक समझ पाये हैं। गुरुत्व तरंगे अंतरिक्ष में होने वाले बड़े घटनाक्रमों के प्रभाव से पैदा होने वाली हलचल है।

पीसा के नज़दीक स्थित विरगो प्रयोगशाला ने पहली बार गुरुत्व तरंगों को बेहतर ढंग से महसूस किया है। वैज्ञानिकों के लिए यह बड़ी खबर है।

असल में यह एक महिन हलचल है जिसे वैज्ञानिक काफी समय से खोज रहे हैं। करीब 100 साल पहले अलबर्ट आइंस्टिन ने इसकी भविष्यवाणी की थी। यह एक प्रोटोन से भी हजार गुना छोटे स्तर पर महसूस की जाने वाली तरंगे हैं।
वैज्ञानिकों ने जिन तरंगों को महसूस किया है वह करीब 1.8 अरब प्रकाश वर्ष दूर स्थित दो ब्लैक होल का आपस में एक होना है।

अमेरिका स्थित लेजर इंटरफेरॉयमीटर गुरुत्वाकर्षण वेव वेधशाला (लिगो) ने 2015 में पहली बार इन्हें खोजा था। उस समय भी दो ब्लैकहोल के टकराने से समय और आयाम में तरंगे पैदा हुई थी।

Advt